ऑटो वाले की शादी, hindi kahaniyan acchi acchi

ऑटो वाले की शादी, hindi kahaniyan acchi acchi

hindi kahaniyan acchi acchi

ऑटो रिक्शा वाले की शादी एक बार अमेरिका से एक फ्लाइट मुंबई एयरपोर्ट पर लैंड हुई विश्व प्रकाश नाम का यह युवक बड़े शान से उतरकर पैदल आ रहा था बाहर एक कार वाले से भैया नुआपादा गांव चलोगे यहां सुबह गांव कितनी दूर है |

मेरा नाम राजेश है मैं नुआपादा कहीं रहने वाला हूं यहां से सिर्फ 30 किलोमीटर है सर जैसी आपको हमारे गांव में किस से मिलना है किस के घर जाना है सर मेरा नाम प्रकाश है आज देखा मेरे नाम में ही पास है|

जादुई भैंस #2 Hindi Kahaniya Story Comedy

तब मुझे कोई चीज नहीं कर सकता मैं अमेरिका में एक बड़ा धनवान हूं तुम्हारे गांव के बंसल जी और मेरे पिताजी बचपन के दोस्त हैं|

उनकी बेटी हमने तो देख कर अगर पसंद हो तो शादी करने के लिए आया हूं मैं अपनी होशियारी से एक गरीब के देश में उसे जान पहचान बना लूंगा अगर वह फूलों की हुई तो उससे शादी कर लूंगा कैसी है मेरी चतुराई कहानी

कोई चीज नहीं कर सकता अरे बाप रे यह क्या यह मेरी रमेश की शादी करने के लिए आया है हम दोनों यह सोच कर परेशान है कि हमारे प्यार के बारे में घर वालों को कैसे बताएं ऊपर क्या बीए नई मुसीबत ऐसा सोचने लगा क्यों मास्टर क्या सोच रहे हो कमान चलो चलो यू क्या वहां से चल पड़ी क्या भोपाल पहुंचने पर सर अगर आप को गरीब देखना हो तो एक ऑटो लेकर उसका ड्राइवर बनने का नाटक करिए सर वेरी गुड वेरी गुड आईडिया लगता है|

कि तुम भी मेरी तरह होशियार हो मुझे तुरंत एक ऑटो दिला देना मुझे कोई चीज नहीं कर सकता बाद में राजेश रमिया से मिला और प्रकाश के बारे में सब कुछ बताया है हमारे नौकरानी को अमेरिका का जुनून है उसकी इच्छा

ऑटो वाले की शादी, hindi kahaniyan acchi acchi

वह अमेरिका से आए एनआरएसएस शादी करके उसकी तरह मेरी तरह बन जाएंगे और मैं जैसा कहूंगी तुम वैसे ही करो राजेश को अपना स्थान बताया बाद में अपनी जस्टिस फैशनेबल कपड़े मंगली को देखकर पहनने को कहा वह दोनों एक जैसे कपड़े पहने हुए थे बाद में राजेश प्रकाश मिला और मंडी का फोटो देखकर पर ध्यान से देखिए यही रमिया है|

चिकन वाला चोर और हीरा dadi maa ke anmol kahaniya

कंफ्यूज ना हो ना अल्लाह आपको जाकर विस्ता मानना है मैंने जुलूस का सारा इंतजाम कर लिया है अगले दिन दूल्हे के रूप में तैयार होकर ओपन टॉप ऑटो में बैठ कर रखा था जुलूस चल पड़ा बाद में रमिया के पिता जी बंसल से मिला और मंडली को दिखाकर मैं इसको शादी करना चाहता हूं मेरे पास ज्यादा पैसे नहीं है लेकिन मैं अपनी पत्नी

तूने की तरफ संभाल कर रखूंगा आपको मंजूर है बंसल मंगली से दो बेटी क्या तुम इस लड़के को जानती हो क्या यह तुम्हें पसंद है नहीं जानती कि यह कौन है पर यह मुझे बहुत पसंद है|

इनसे शादी करने के लिए मुझे कोई आपत्ति नहीं है वह तो दिखा कर राजेश बंसल जी मैं एक साधारण कार्ड विवरण मेरा परिवार बहुत ईमानदार है हम दोनों बहुत सालों से एक दूसरे से प्यार करते हैं पर मुझे डर है|

कि मैं आपके हैसियत के बराबर नहीं हूं अरे राजेश नौकरानी से शादी करने के लिए उनकी अनुमति की क्या जरूरत है तुम शादी कर लो मैं देखता हूं कि कौन रोकता है बंसल को कुछ समझ में नहीं आया और वह देखें लगा पिता राजेश बंसल जी का मतलब है कि नौकरानी से शादी करने में क्या गलत है आप बुरा ना माने तो मेरे समझ में

चालाक खरगोश #2 – moral stories in hindi for kids

कुछ नहीं यार हमारी इमानदारी मुझे अच्छी लगी तुम दोनों की शादी रमिया और मंगल के साथ एक ही दिन एक ही मुहूर्त में होगी ठीक है और मंडली के साथ उन दोनों की शादी बड़े धूमधाम से हुई शादी के बाद प्रकाश तब से कहा ना मेरा नाम प्रकाश है|

मुझे कोई नहीं कर सकता अब मैं अपनी पत्नी को लेकर अमेरिका जा रहा हूं वहां हम दोनों खुशी से रहेंगे तब तभी खुश होकर ताली बजाई प्रकाश माली के साथ लाइफ में रवाना हुआ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: